बॉलीवुड

संजय दत्त ने नये सितारों को दिया ये सबक, ऐसा सलमान करते हैं

मुंबई। अपने फिल्मी करियर में स्टारडम का स्वाद चख चुके संजय दत्त ने आने वाले समय में सुपरस्टार बनने वाले कलाकारों को मल्टीप्लेक्स कल्चर से आगे जा कर सोचने के सलाह दी थी।

समाचार एजेंसी पीटीआई से बातचीत में संजय दत्त ने कहा कि अगर नए सितारों को उनके जैसा स्टारडम देखना हो तो उन्हें सिर्फ शहरी सिनेमाघरों या मल्टीप्लेक्स को ध्यान ने रख कर काम करना छोड़ना होगा। उन्होंने कहा कि अगर ऐसा होगा तो ही सलमान खान ,शाहरुख़ खान या उनके जैसा स्टारडम पाना संभव होगा। संजय ने कहा ” नई पीढ़ी को सही चुनाव करना होगा। ये समझना होगा कि भारत में फिल्मों के लिए सिर्फ मल्टीप्लेक्स ही नहीं है बल्कि उससे भी आगे कुछ है। जैसे ही वो ये जान जायेंगे, स्टारडम एन्जॉय कर सकेंगे। मल्टीप्लेक्स कल्चर से इतर लोगों के लिए उन्हें फिल्में बनानी चाहिए।”

संजय दत्त ने कहा कि उनकी सफलता का सबसे बड़ा कारण ये रहा कि उन्होंने कभी भी परंपरागत हीरो वाले रोल स्वीकार नहीं किये। चाहे मिशन कश्मीर हो या अग्निपथ। उन्होंने किरदार निभाने की कोशिश की न की हीरो का रोल करने पर जोर देने की। संजय ने दावा किया कि आज के ज़माने का शायद ही कोई एक्टर हो जो अग्निपथ का कांचा चीना वाला रोल करने के लिए हां कहेगा। उनके लिए ये चुनौती थी और उन्होंने स्वीकार की।

फिल्म भूमि में अदिति राव हैदरी के पिता की भूमिका से वापसी कर रहे संजय दत्त ने कहा कि यंग एक्टर्स को डरना नहीं चाहिए। रोल अच्छा हो तो बिना सोचे निभाना चाहिए। संजय दत्त, भूमि के बाद साहब बीबी और गैंगस्टर रिटर्न्स , मलंग और तोरबाज़ जैसी फिल्मों में काम करेंगे।

About the author

Related Posts

Leave a Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published.